CTET 2022 का नोटिफिकेसन जारी हो गया है यह परीक्षा दिसम्बर में होनी तय है। आज हम ले के आए हैं इस परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण प्रश्न ।

CTET परीक्षा 150 अंकों की होती है जिसको उत्तीर्ण करने के लिए सामान्य वर्ग को 90 अंकों की आवश्यकता होती है

ctet परीक्षा में pedagogy के 30 प्रश्न, दो भाषाओं के 30, 30 प्रश्न और गणित, विज्ञान अथवा सामाजिक अध्ययन के 60 प्रश्न पूछे जाते हैं

डिस्लेक्सिया (Dyslexia) डिस्लेक्सिया (Dyslexia) पढ़ने से संबंधित अक्षमता है जो पढ़ने और संबंधित भाषा-आधारित प्रसंस्करण कौशल को प्रभावित करती है। यह रोग तंत्रिका तंत्र संबंधी विकृति और वंशानुक्रम द्वारा भी हो जाता है।  लक्षण – अक्षरों की  उल्टे ढंग से प्रस्तुत करने जैसे कि saw को was, M को W, 9 को 6 , 12 को 21 आदि । – धीमी गति से रुक – रुक कर पढ़ना। – पढ़ते समय किसी शब्द या पूरी पंक्ति को छोड़ देना – वाक्य के शब्दों को आगे पीछे करके पढ़ना

डिसग्राफिया (Dysgraphia)  डिसग्राफिया (Dysgraphia)  लिखने से संबंधित अक्षमता है।  लक्षण लिखने संबंधित कार्यों में समस्या। कलम पकड़ने का ढंग ठीक नहीं होता है। शब्दों, वाक्यों के बीच अंतराल अनियमित होता है। अक्षरों का आकार अनियमित होता है। डिस्कैल्कुलिया (Dyscalculia)  डिस्कैल्कुलिया (Dyscalculia) गणना से संबंधित अक्षमता है इस रोग से ग्रसित बच्चों में गणितीय योग्यता कम होती है।  लक्षण यह बच्चे जोड़ घटाना गुणा एवं भाग करने में अत्याधिक देरी करते हैं।  आकृति विभेदन की समस्या होना बड़ा -छोटा, लंबा – छोटा आदि को समझने में समस्या।

डिस्प्रेक्सिया (Dyspraxia) डिस्प्रेक्सिया मांसपेशियों के नियंत्रण में कठिनाई की समस्या है, हालांकि यह सीखने की अक्षमता नहीं है, लेकिन यह अक्सर डिस्लेक्सिया, डिस्कैल्कुलिया या एडीएचडी के साथ मौजूद होता है।

ADHD ध्यान अभाव,अति क्रियाशीलता विकृति (Attention Deficit Hyperactivity Disorder\ ADHD) ध्यान केंद्रित करने संबंधी समस्या है