Get Study Material & Notification of Latest Posts on Telegram

उत्तराखंड के वन (Forests of Uttarakhand)

उत्तराखंड के वन (Forests of Uttarakhand) उत्तराखंड सामान्य ज्ञान

उत्तराखंड के वन

  • उत्तराखंड में वन सम्पदा का अतुल भंडार है नवीनतम आंकड़ो के अनुसार उत्तराखंड में 34,650 वर्ग किमी में वनों का विस्तार है 
  • उत्तराखंड में 600-1200 मीटर ऊंचाई वाले क्षेत्रो में वनों का प्रतिशत 16.3 तथा 1200 से 1800 मीटर ऊंचाई वाले क्षेत्रो में 22.3 प्रतिशत तथा 1800 से 3000 मीटर ऊंचाई वाले क्षेत्रो में सर्वाधिक 22.3 प्रतिशत वन है और 3000 मीटर से ऊंचाई वाले क्षेत्रो में केवल 7.5 प्रतिशत वन क्षेत्र है|
  • 14 वे वन रिपोर्ट के अनुसार राज्य के कुल क्षेत्रफल के 46.73 प्रतिशत भाग पर वन है इसमें से 19.61 % भाग पर अति सघन  वन , 56.11% भाग पर मध्यम सघन वन व 24.27% भाग पर खुले वन है 
  • उत्तराखंड में कुल वनों के 49.63 % आरक्षित वन , 18.48 % संरक्षित वन तथा 2.93 % अवर्गीकृत वनों के अंतर्गत आते है|
  • उत्तराखंड में सर्वाधिक वन क्षेत्रफल पौड़ी गढ़वाल जिले में तथा सबसे कम वें क्षेत्रफल उधम सिंह नगर में है|
  • उत्तराखंड में सबसे अधिक सघन वन नैनीताल में , सबसे अधिक मध्यम सघन वन पौड़ी तथा सर्वाधिक खुले वन पौड़ी जनपद में है|
  • राज्य में कुल वनों का 59.70% गढ़वाल मण्डल में तथा 40.30 % कुमाऊं मण्डल में है|
  • उत्तराखंड में नदी बेसिनो के कुल क्षेत्रफल में वनों के क्षेत्रफल की दृष्टि से सर्वाधिक वन टोंस बेसिन में है 
  • उत्तराखंड में कुल वन क्षेत्रफल का 70.46 % वन विभागाधीन , 13.76 % राजस्व विभागाधीन , 15.32 प्रतिशत वन पंचायाताधीन तथा .46 % निजी वन है 

Also read…. उत्तराखंड के प्रमुख बुग्याल

उत्तराखंड में पाये जाने वाले वनों के प्रकार

1.उपोष्ण कटिबन्धीय वन

ये वन 750 से 1200 मीटर की ऊंचाई पर पाये जाते है साल इन वनों का प्रमुख वृक्ष है इसमें उत्तराखंड का उप हिमालय क्षेत्र आता है 

2.उष्ण कटिबन्धीय शुष्क वन

ये वन 1500 मीटर ऊंचाई से कम वाले ऐसे क्षेत्रो में पाये जाते है जहा वर्षा कम होती है , इन वनों की मुख्य वृक्ष जामुन , गूलर, ढाक आदि है 

3.उष्ण कटिबन्धीय आद्र पतझड़ वन

ये वन शिवालिक क्षेत्रो तथा दून क्षेत्रो में पाये जाते है इन्हें मानसूनी वन भी कहते है इन वनों की मुख्या प्रजातियाँ सागौन, शहतूत, साल , बांस आदि है 

4. कोणधारी वन

ये वन 900-1800 मीटर ऊंचाई पर पाये जाते है , चीड़ इनका मुख्या वृक्ष है 

5. पर्वतीय शीतोष्ण वन

ये वन 1800-2700 मीटर की ऊंचाई पर पाये जाते है चीड़, देवदार, स्प्रूस, फर आदि इनके मुख्या वृक्ष है 

6. उप एल्पाइन तथा एल्पाइन वन

ये वन 2700 मीटर से अधिक ऊंचाई पर मिलते है बुरांश,पाइन , फर, देवदार इनकी मुख्या प्रजातियाँ है 

7. घास के मैदान (बुग्याल )

मध्य हिमालय में 3800 से 4200 मीटर की ऊंचाई पर घास के मैदान पाये जाते है इन्हें बुग्याल कहा जाता है 

Next –  उत्तराखंड में वनों से सम्बंधित आन्दोलन

Leave a Comment

close