Get Study Material & Notification of Latest Posts on Telegram

कलम का सिपाही किसे कहा जाता है?

कलम का सिपाही किसे कहा जाता है? Kalam ka sipahi kise kaha jata hai

कलम का सिपाही हिन्दी के प्रसिद्ध लेखक मुंशी प्रेमचंद को कहा जाता है मुंशी प्रेमचंद का वास्तविक नाम धनपत राय श्रीवास्तव था उनकी कलम यानि उनके लेखन का मुकाबला आज के बड़े – बड़े लेखक भी नहीं कर पाते हैं इसलिए मुंशी प्रेमचंद को कलम का सिपाही कहा जाता है।

मुंशी प्रेमचंद – कलम का सिपाही 

Kalam ka sipahi

जन्म  – 31 जुलाई 1880
जन्म स्थान – वाराणसी , उत्तर प्रदेश
मृत्यु – 8 अक्टूबर 1936
प्रमुख रचनाएं – सेवासदन, प्रेमाश्रम, रंगभूमि, निर्मला, गबन, कर्मभूमि, गोदान आदि। 

प्रेमचंद का जन्म 31 जुलाई 1880 को उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले के लमही गाँव में हुआ था उनके पिता का नाम मुंशी अजायबराय तथा माता का नाम आनंदी देवी था। मुंशी प्रेमचंद का वास्तविक नाम धनपत राय श्रीवास्तव था। 
मुंशी प्रेमचंद द्वारा लिखित अधिकांश रचनाओं में उपन्यास, कहानी और नाटक है। सेवासदन, प्रेमाश्रम, रंगभूमि, निर्मला, गबन, कर्मभूमि, गोदान आदि उनके प्रमुख उपन्यास हैं और संग्राम , कर्बला और प्रेम की वेदी उनके द्वारा लिखित नाटक हैं इनके अलावा उन्होंने 100 से अधिक कहानियाँ भी लिखी हैं

Also read…

भारत का सबसे लंबा बांध कौन सा है?

दक्षिण भारत की गंगा किस नदी को कहा जाता है?

Leave a Comment

close