Get Study Material & Notification of Latest Posts on Telegram


Get Study Material & Notification of Latest Posts on Telegram

प्रत्यय (Suffixes) – Pratyay in Hindi

प्रत्यय (Suffixes) – Pratyay in Hindi

Pratyay in Hindi

पिछली पोस्ट में हमने आपको बताया की किस प्रकार से यौगिक शब्दों के द्वारा प्रत्यय , उपसर्ग या समास की सहायता से शब्द रचना की जाती है इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे की प्रत्यय क्या होते हैं Pratyay in hindi प्रत्यय के प्रकार और उदाहरण

प्रत्यय (Suffixes) – Pratyay in Hindi

ऐसे शब्दांश जो शब्दों के अंत में जुड़ कर उनके अर्थ में कुछ विशेषता जोड़ देते है या परिवर्तन कर देते हैं प्रत्यय कहलाते हैं। 

जैसे भूख शब्द के अंत में आ जोड़ने से भूखा शब्द बंता है जिससे उसके अर्थ में विशेषता आ जाती है अर्थात भूखा शब्द में आ प्रत्यय है।
भूख (मूल शब्द) + आ (प्रत्यय) = भूखा 

प्रत्यय के भेद 

हिन्दी के प्रत्यय के दो भेद होते हैं 

  1. कृत् प्रत्यय 
  2. तद्धित प्रत्यय 

कृत् प्रत्यय 

वे प्रत्यय जो धातु में जोड़े जाते हैं कृत् प्रत्यय कहलाते हैं क्रिया के मूल रूप को धातु कहा जाता है जैसे चलना एक क्रिया है और इसमें चल धातु है।
कृत् प्रत्यय की सहायता से बने शब्दों को कृदंत शब्द कहते हैं। 

कृत् प्रत्यय के उदाहरण 

कृत् प्रत्यय धातु कृदंत शब्द 
आ छाप छापा 
आई पढ़ पढ़ाई 
आऊ बिक बिकाऊ 
अक्कड़ भूल भुलक्कड़ 
आक तैर तैराक 
आन चढ़ चढ़ान 
आप मिल मिलाप 
आव मिल मिलाव 
आवट मिल मिलावट 
आवना डर डरावना 
इयल मर मरियल 
इया बढ़ बढ़िया 
ई बोल बोली 
ऊ चाल चालू 
एरा लूट लूटेरा 
ऐल बिगड़  बिगड़ैल 
क उठ उठक 
की डूब डुबकी 
त बच बचत 
न धडक धड़कन 

तद्धित प्रत्यय 

वे प्रत्यय जो धातु के अलावा अन्य शब्दों जैसे संज्ञा, सर्वनाम विशेषण, अव्यय आदि में जुड़ते है तद्धित प्रत्यय कहलाते हैं तद्धित प्रत्यय से बने शब्दों को तद्धितान्त शब्द कहते हैं

तद्धित प्रत्यय के उदाहरण 

तद्धित प्रत्यय मूल शब्द तद्धितान्त शब्द 
आ भूख भूखा 
आई  अच्छा अच्छाई 
आक चट चटाक 
आनी नौकर नौकरानी 
आयात बहुत बहुतायत 
आर सोना सोनार 
आरी पूजा पुजारी 
आव मोटा मुटाव 
आस मीठा मिठास 
आहट गरम गरमाहट 
इम स्वर्ण स्वर्णिम 
इन जोगी जोगिन 
औड़ा हाथ हथौड़ा 
औता काठ कठौता 
ई अंगूठा अंगूठी 
इला जहर जहरीला 
एरा चाचा चचेरा 
क ढोल ढोलक 
पन अपना अपनापन 
वाँ सात सातवाँ 
सा तुम तुमसा 
ला धुंध धुंधला 
वन्त बल बलवंत 

Also read…

उपसर्ग (Prefixes) – Upsarg in hindi

Leave a Comment

close