Get Study Material & Notification of Latest Posts on Telegram

इंटरनेट क्या है ? What is internet in Hindi

इंटरनेट क्या है ? What is internet in Hindi

What is internet in Hindi

इंटरनेट का नाम तो आपने जरूर सुना ही होगा और आप इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं तो आप निश्चित ही इंटरनेट का उपयोग भी कर रहे होंगे लेकिन क्या आप जानते हैं इंटरनेट क्या है what is internet in hindi , यह कैसे काम करता है, इसे कौन नियंत्रित करता है, इंटरनेट का मालिक कौन है इस पोस्ट में इंटरनेट से संबंधित कुछ ऐसे ही प्रश्नों का उत्तर दिया गया है।

इंटरनेट क्या है ? What is internet in Hindi

इन्टरनेट (Internet) का पूरा नाम इंटरनेशनल नेटवर्क है इन्टरनेट की शुरुआत विंट कर्फ़ ने की थी विंट कर्फ़ को इन्टरनेट का जनक कहा जाता है 
इन्टरनेट को नेटवर्कों का नेटवर्क भी कहा जाता है|

इंटरनेट, जिसे कभी-कभी केवल “नेट” कहा जाता है, बहुत सारे कंप्युटर का एक नेटवर्क है जिसमें उपयोगकर्ता किसी एक कंप्यूटर पर किसी अन्य कंप्यूटर से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं 

इन्टरनेट पर उपलब्ध सभी कंप्यूटर TCP/IP प्रोटोकॉल के द्वारा  जुड़े होते है इन्टरनेट पर उपलब्ध डाटा  को इसी प्रोटोकॉल द्वारा नियंत्रित किया जाता है TCP/IP द्वारा किसी फाइल को छोटे – छोटे   भागो में बाँट दिया जाता है जिन्हें पैकेट्स (Packets) कहते है

 Internet Meaning in Hindi – इंटरनेट का हिन्दी में अर्थ

Internet एक अंग्रेजी शब्द है जिसका अर्थ Inter Connected Network होता है जिसे  हिन्दी में  हम अंतरजाल कह सकते हैं इसी लिए इंटरनेट को भी हिन्दी में अंतरजाल कहा जाता है।

इंटरनेट का फुल फॉर्म – Internet Full Form

इंटरनेट का फुल फॉर्म “Inter Connected Network” होता है।

Types of Internet in Hindi – इंटरनेट के प्रकार

इंटरनेट के प्रकार से तात्पर्य इंटरनेट कनेक्शन के प्रकार से है इंटेररनेट कनेक्शन निम्नलिखित प्रकार के होते हैं।

मोबाईल इंटरनेट (Mobile Internet)

मोबाईल इंटरनेट भारत में सबसे अधिक इस्तेमाल होता है इसमें हमें मोबाईल नेटवर्क के द्वारा इंटरनेट प्रदान किया जाता है भारत में जिओ , एयरटेल , बीएसएनएल और वी प्रमुख मोबाईल इंटरनेट प्रदाता हैं मोबाईल इंटरनेट के 2g, 3g और 4 g अलग – अलग प्रकार के इंटरनेट प्लान उपलब्ध होते हैं मोबाईल इंटरनेट इस्तेमाल करने का सबसे सस्ता माध्यम है।

DSL

DSL का पूरा नाम Digital Subscriber Line होता है इसमें आम दो कापर वायर वाली टेलीफोन लाइन का उपयोग इंटरनेट प्रदान करने के लिए भी किया जाता है इस लाइन से लैंड्लाइन टेलीफोन और इंटरनेट एक ही तार के माध्यम से चलते हैं।

ब्रॉड्बैन्ड (Broadband)

ब्रॉड्बैन्ड एक हाई स्पीड इंटरनेट माध्यम है यह भी DSL इंटरनेट का ही एक प्रकार है लेकिन इसकी बैन्ड्विड्थ (Bandwidth) DSL से काफी अधिक होती है जिससे इसके स्पीड अधिक होती है।
इस प्रकार का इंटरनेट हमारे घर तक तारों की सहायता से पहुंचता है इसके बाद इसे हम मोडेम, राउटर और लैन केबल की सहायता से इस्तेमाल करते हैं ।

सैटेलाइट इंटरनेट (Satellite Internet)

सैटेलाइट इंटरनेट मे इंटरनेट का इस्तेमाल सैटेलाइट के माध्यम से किया जाता है इस प्रकार के इंटरनेट का इस्तेमाल अधिक नहीं किया जाता है क्यूंकी सैटेलाइट के माध्यम से डाटा की तेजी से ट्रांसफर करना संभव नहीं है लेकिन कुछ क्षेत्रों में जहां ब्रॉडबैंड कनेक्शन उपलब्ध नहीं हो पता है वहाँ सैटेलाइट इंटरनेट विकल्प उपलब्ध हो सकता है।

ये इंटरनेट के कुछ प्रकार थे जो प्रचलित हैं इनमें से सबसे अधिक इस्तेमाल मोबाईल इंटरनेट और ब्रॉड्बैन्ड का किया जाता है यदि आपको सस्ता इंटरनेट चाहिए तो मोबाईल इंटरनेट सबसे अच्छा विकल्प है और तेज स्पीड इंटरनेट के लिए ब्रॉड्बैन्ड सबसे बेहतर विकल्प है
इस पोस्ट को पढ़कर आप समझ गए होंगे की Types of Internet in Hindi – इंटरनेट के प्रकार कितने होते हैं और आपके लिए कौनस बेहतर है।

इंटरनेट का इतिहास – History of Internet in Hindi

 इसका पहली बार ASPANET के द्वारा  सन 1969 में बनाया गया था। तब इंटरनेट के द्वारा अमेरिका के पाँच विश्वविध्यालयों के कंप्युटरों को आपस में जोड़ा गया था

1989 में जब हाइपरटेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल ( HTTP ) बनाया गया, तो इंटरनेट पर संचार में बहुत सुधार हुआ , जिससे विभिन्न कंप्यूटर प्लेटफॉर्म को एक ही इंटरनेट साइटों से जुड़ने की क्षमता मिली । 1993 में, मोज़ेक वेब ब्राउज़र (Mosaic Web browser) बनाया गया था। इसके बाद से इंटरनेट का लगातार विकासक्रम जारी है।

इंटरनेट का मालिक कौन है ?

इंटरनेट कंप्युटर को आपस मे जोड़ने की एक तकनीक है इसका कोई भी मालिक नहीं है या हम यह भी कह सकते हैं की इंटरनेट के कई सारे मालिक है जैसे विभिन्न डाटा सेंटर, वेबसाईट, नेटवर्क प्रोवायडर आदि जो भी इंटरनेट के संचालन में सहायक हैं।

Also read…
Types of Operating System In Hindi

Leave a Comment

close