Get Study Material & Notification of Latest Posts on Telegram


Get Study Material & Notification of Latest Posts on Telegram

कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा (Computer Programming Language)

कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा (Computer Programming Language)

computer general knowledge

कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा (Computer Programming Language)

प्रोग्रामिंग भाषा

प्रोग्रामिंग भाषा एक कृतिम भाषा है जिसका उपयोग कंप्यूटर में प्रोग्राम बनाते समय कंप्यूटर को निर्देश देने के लिए किया जाता है कंप्यूटर को दिए गए निर्देशों के समूह को प्रोग्राम कहते है |

प्रोग्रामिंग भाषाएँ तीन प्रकार की होती है मशीनी भाषा (Machine Language), असेम्बली भाषा (Assembly language) और उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा (High-Level Programming Language)|

मशीनी भाषा (Machine Language)

मशीनी भाषा एक निम्न स्थर की प्रोग्रामिंग भाषा है जिसे केवल कंप्यूटर के द्वारा ही समझा जा सकता है मनुष्य के द्वारा इसको समझना व इसमें प्रोग्राम तैयार करना संभव नहीं है
मशीनी भाषा केवल बाइनरी नंबर 0  और 1 की श्रंखला से ही बनी होती है

असेम्बली भाषा (Assembly language)

असेंबली भाषा का विकास प्रोग्रामिंग को सरल करने के लिए किया गया इसमें बाइनरी संख्याओ  के स्थान पर नेमोनिक कोड का प्रयोग किया जाता है  परन्तु इस भाषा का उपयोग करने से पहले इसे  मशीनी भाषा में बदलना पड़ता है जिसके लिए असेम्बलर का उपयोग किया जाता है

असेम्बलर(Assembler) – असेम्बलर एक ऐसा प्रोग्राम  है जो असेंबली भाषा को मशीनी भाषा में परिवर्तित करता है |

उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा (High-Level Programming Language)

उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा (High-Level Programming Language) मनुष्य द्वारा समझने में आसान होती है क्यूंकि इसमें अंग्रेजी के वर्णों का उपयोग किया जाता है उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा  को कम्पाइलर को सहायता से मशीनी भाषा में बदला जाता है |

कम्पाइलर (Compiler) –  कम्पाइलर एक ऐसा प्रोग्राम है जिसकी मदद से उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा (High-Level Programming Language)  को मशीनी भाषा या निम्न स्तरीय भाषा में परिवर्तित किया जाता है |

कुछ प्रमुख उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषाएँ निम्नलिखित दी गयी है|

  • FORTRAN (Formula Translation) –  यह पहली उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा है जिसका विकास जॉन बैक्स (John Backus) द्वारा 1956 में किया गया
  • ALGOL (Algorithmic Language) – इसका विकास जॉन बैक्स (John Backus) द्वारा 1958 में किया गया
  • COBOL ( Common Business Oriented Language) –  इसका विकास 1959 में ग्रेस हॉपर (Grace Hopper) द्वारा किया गया
  • APL (A Programming Language) – इसका विकास 1964 में Kenneth E. Iverson द्वारा किया गया
  • BASIC (Beginner’s All purpose Symbolic Instruction Code) – इसका विकास John George KemenyThomas Eugene Kurtz  द्वारा 1964 में किया गया
  • C – C प्रोग्रामिंग भाषा का विकास डेनिस रिच्ची (Dennis Ritchie) द्वारा 1972 में किया गया , डेनिस रिच्ची को C भाषा का जनक भी कहा जाता है
  • PASCAL – इसका विकास Niklaus Wirth द्वारा 1970 में किया गया
  • COMAL (Common Algorithmic Language) – इसका विकास Benedict Lofstedt और Borge Christensen द्वारा 1973 में किया गया
  • Java –  जावा प्रोग्रामिंग भाषा का विकास जेम्स गोसलिंग (James Gosling) द्वारा 1995 में किया गया
  • C++, SQL, RPG, PL1, LOGO, DCL, SHELL आदि कुछ अन्य उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषाए हैं

Also read…

कंप्यूटर मेमोरी (Computer Memory)

इनपुट और आउटपुट डिवाइस (Input and Output Device)

कंप्यूटर का विकास एवं पीढ़ियां (Development of Computer and Generations)

Leave a Comment

close